I hope u guys arent bored yet.. But, M on the roll… one of my all time favs – here comes a Rafi-Lata duet… They weave magic into the otherwise simple tune… The lyrics rock!

Why such morose songs all of a sudden you may think. I am a boring person anyways, so have always loved morose songs more than any other type!🙂

Lyrics:

याद मे तेरी जाग जाग के हम
रात भर करवटें बदलते हैं
हर घड़ी दिल मे तेरी उल्फत के
धीमे धीमे चराग़ जलते हैं

जब से तूने निगाह फ़ेरी है
दिन है सूना तो रात अंधेरी है
चाँद भी अब नज़र नहीं आता
अब सितारे भी कम निकलते हैं
याद मे तेरी जाग जाग के हम…

लुट गयी वो बहार की महफ़िल
छुट गयी हम से प्यार की मंज़िल
ज़िंदगी की उदास राहों में
तेरी यादों के साथ चलते हैं
याद मे तेरी जाग जाग के हम….

तुझको पाकर हमें बहार मिली
तुझसे छुट कर मगर ये बात खुली
बागबान भी चमन के फूलों को
अपने पैरों से ख़ुद मसलते हैं
याद मे तेरी जाग जाग के हम….

क्या कहें तुझसे क्यूँ हुई दूरी
हम समझते हैं अपनी मजबूरी
तुझको मालूम क्या कि तेरे लिए
दिल के गम आँसुओं में ढलते हैं
याद मे तेरी जाग जाग के हम….